EMI Scheme : मकान या फ्लैट खरीदना EMI पर कितना सही रहता है, जान ले पहले ये बात वरना 

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

EVSALAH Digital Desk नई दिल्ली : EMI Scheme मकान या फ्लैट खरीदना EMI पर कितना सही रहता है, जान ले पहले ये बात वरना, रोटी, कपड़ा और मकान एक आम आदमी के जीवन में इन तीन चीजों का होना बहुत महत्व रखता है। एक अच्छी नौकरी करने के बाद रोटी, कपड़े का जुगाड़ तो आसानी से हो जाता है। लेकिन मकान के लिए उसे बहुत इंतजार करना पड़ता है। आइए जानते है इसके बारे में विस्तार से.  (EMI Scheme)

खासकर ऐसे लोगों को जिनकी सैलरी बहुत कम होती है। लेकिन आज कल होम लोन की सुविधा ने बहुत कुछ आसान कर दिया है। अगर आप भी होम लोन पर घर या फ्लैट खरीदने का प्लान कर रहे हैं तो एक बार इस खबर को पूरा पढ़ना चाहिए।

इन दिनों इस बात की खूब चर्चा होती है कि घर खरीदना चाहिए या नहीं? क्या किराये पर ही रहने में फायदा है? दरअसल, घर खरीदना या किराये पर रहना, दोनों फैसले आपकी आमदनी पर निर्भर करता है। आपको घर लेने का फैसला करने से पहले अपने बजट को देखना होगा।

आजकल मेट्रो सिटी में घर का सपना पूरा करने के लिए लोग होम लोन लेते हैं और सालों तक उसकी EMI चुकाते हैं। कुछ लोग डाउन पेमेंट में अपनी पूरी बचत लगा देते हैं या फिर घरवालों से उधार ले लेते हैं। ऐसी स्थिति में उनके कंधों पर EMI के साथ उधार का कर्ज भी चढ़ जाता है।

वित्तीय जानकार बताते हैं कि घर खरीदना एक सामान्य फॉर्मूला है कि होम लोन की EMI आपकी सैलरी का अधिकतम 20 से 25 फीसदी हिस्सा ही होना चाहिए। अगर आपकी सैलरी 1 लाख महीना है तो आप 25 हजार तक की EMI हर महीने आसानी से दे सकते हैं। वहीं, अगर आपकी सैलरी 50 से 70 हजार के बीच है तो 25 हजार या इससे ज्यादा की EMI देना आपके लिए महंगा साबित हो सकता है।

ऐसी स्थिति में किराए के घर में रहना है एक प्रकार से फायदेमंद रहेगा। अगर सैलरी की 25 फीसदी राशि ही लोन की EMI बनती है तो जरूर घर खरीदें। वहीं अगर सैलरी 50 से 70 हजार रुपये के बीच है और घर की ईएमआई 20 हजार रुपये महीने से कम रहने वाली है तो घर खरीद सकते हैं।

यानी 25 लाख रुपये तक का घर ले सकते हैं। जिसकी 20 साल के लिए 20 हजार रुपये से कम आएगी। लेकिन अगर घर की कीमत 30 लाख रुपये से अधिक है, फिर 50 से 70 हजार की सैलरी वालों के लिए किराये पर ही रहना फायदा का सौदा रहेगा। इस दौरान हर महीने बचत पर फोकस करें, और जब सैलरी एक लाख रुपये के आसपास पहुंच जाए, फिर अधिक डाउन पेमेंट कर घर खरीद सकते हैं।

1 लाख सैलरी पर 30 से 35 लाख की कीमत वाला घर खरीदना सही फैसला है।
1 लाख 50 हजार सैलरी पर 50 लाख की कीमत वाला घर खरीदना सही फैसला रहेगा।

Leave a Comment

Advertise With Us: ब्रांड प्रमोशन या Sponser पोस्ट के लिए contact करें (bishnoirb1008@gmail.com) हमारी वेबसाइट पर मंथली लगभग 1 लाख से ज्यादा का ट्रैफिक रहता है|